Fri. May 14th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

सांस, शुगर, और हृदय रोगियों को सावधान रहने की जरूरत

1 min read

संतुलित भोजन के साथ रहन-सहन पर भी ध्यान दे
शिवहर: सर्दी ने दस्तक दे दी है और तापमान धीरे-धीरे कम हो रहा है। सर्दी के मौसम में मौसमी बीमारियों के साथ ही कोरोना का भी अधिक खतरा है। ऐसे में सांस, शुगर, और हृदय रोगियों को विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। यह बातें कही सिविल सर्जन डॉ आरपी सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में हृदय रोग से ग्रसित बड़े बुजुर्ग ही नहीं बल्कि कम उम्र के बच्चे व नौजवान भी हो रहे हैं। सर्दी के मौसम और कोरोना काल मे संतुलित भोजन के साथ रहन-सहन पर भी ध्यान देने की जरूरत हैं। फ़ास्ट फूड व तैलीय पदार्थों का खाना अभी स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह हो सकता है।

योग और व्यायाम करें
डॉ आरपी सिंह कहते हैं कि हृदय के रोगी योग और व्यायाम पर ध्यान दें। कम से कम आधा घंटा भी अगर दिन में योग या व्यायाम कर लेते हैं तो शरीर स्वस्थ रहेगा। साथ ही ब्लड प्रेशर भी सामान्य रहेगा। अगर आप यह भी नहीं कर सकते तो 45 मिनट तक सुबह तेज कदमों से टहला करें।

खानपान का रखें विशेष ध्यान
सिविल सर्जन डॉ आरपी सिंह कहते हैं कि ऐसे मौसम में खानपान का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। आमतौर पर सर्दी के मौसम में लोग सामान्य दिनों के मुकाबले अधिक भोजन करते हैं जो की ठीक नहीं है। साथ ही तेल-मसाले से युक्त भोजन से भी परहेज करने की जरूरत है। भोजन में हरी सब्जियां और मौसमी फल का अधिक से अधिक उपयोग करें।

गर्म कपड़े पहनें
अभी शरीर को ढककर रखें और गर्म कपड़े पहना करें।
आमतौर पर ठंड का मौसम जब शुरू होता है तो लोग उस वक्त गर्म कपड़े कम पहनते हैं। जो कि ठीक नहीं है। ऐसे में लोग ठंडी की चपेट में आते हैं। अगर ह्रदय रोगी दूसरी बीमारी की चपेट में आ जाते हैं तो उन्हें और परेशानी होती है।

 

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढंके.
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

रिपोर्ट : अमित कुमार