Wed. Apr 14th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

गया : बाराचट्टी थाने के कार्य कलापों से नाराज सांसद थाने में ही बैठे धरना पर …विधायक का भी मिला साथ

2 min read

-सांसद ने बाराचट्टी थाने के क्रिया कलाप से नाराजगी धरने पर बैठे

गया : गया (Gaya) सांसद विजय कुमार मांझी पुलिस की कार्यशैली से नाराज होकर पैदल ही बाराचट्टी थाना पहुंचे और थाना परिसर में ही धरने पर बैठ गए. एम पी साहब गुस्से में इसलिय है की थानेदार उनका कॉल ही नहीं रिसीव करता है,यही वजह रही की गुसाए एम पी पैदल चलकर थाणे पहुंचे और थाणे में ही धरने पर बैठ गये,.राजनेता और सरकारी बाबुओं के बीच मनमुटाव का यह कोई पहला मामला नहीं हैमिली जानकारी के अनुसार गया के सांसद विजय कुमार मांझी बाराचट्टी थाना (Vijay Kumar Manjhi Barachatti Police Station) प्रभारी कुमार सौरभ की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया है कि पिछले कई दिनों से बाराचट्टी के प्रभारी ना तो फोन उठाते हैं और ना ही जनता की शिकायतों पर कोई कार्रवाई करते हैं. मतलब साफ़ है की सुशासन वाली सरकार में एक थानेदार एम पी को उसकी औकात बताने पर तुला हैसांसद मांझी ने जैसा बताया की बाराचट्टी थाणे का थानाप्रभारी उन्हें लगातार इग्नोर कर रहा था जमता के काम के लिय भी जब जब मैंने थानेदार को फोन लगाया त्ब्त्ब थानेदार ने कॉल (call) ही रिसीव (Receive) नहीं किया,ऐसे में भला एक जनप्रतिनिधि कैसे काम कर पायेगा,सुशासन की सरकार में खुद जदयू सांसद को ही धरने पर बैठना पड़ रहा है, इससे तो यही साबित होता है की सरकारी मुलाजिम सांसद जैसे जनप्रतिनिधि का भी नहीं सुनते और इसी मामले को लेकर सांसद विजय कुमार मांझी धरने पर बैठ गए हैं इसी दौरान सांसद की तबीयत बिगड़ गई थी जिसके बाद चिकित्सकों की टीम मौके पर पहुंची और उनके इलाज में जुटी हुई हैउनके साथ विधायक समता देवी भी धरने स्थल पर मौजूद हैं. बताया जा रहा है की सांसद पिछले कई दिनों से थाना प्रभारी के कार्यशैली से नाराज थे अब देखने वाली बात होगी की सत्ताधारी दल के थाने में ही धरने पर बैठ जाने की घटना को विपक्ष कैसे लेता है सांसद विजय मांझी बाराचट्टी थानाध्यक्ष को लगातार कई कॉल किये थे, पर थानाध्यक्ष द्वारा फोन रिसीव नहीं करने पर वे अपने बाराचट्टी स्थित आवास से थाना के लिए पैदल ही निकल पड़े थे इस थानाध्यक्ष के व्यवहार की वजह से उनका बीपी बढ़ गया और वे थाना पहुंचते हीं बेहोश होकर गिर पड़े है इसके बाद आनन-आपन में थाना परिसर में स्थित सीएचसी के डॉक्टर मौके पर पहुंचकर उनका इलाज किया और दवा देते हुए आराम की सलाह दी है इस मसले को

रिपोर्ट : धीरज गुप्ता