Fri. May 14th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

गया : बिहार सरकार पर अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त गया की अनदेखी का लगाया आरोप.. प्रमंडल कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा विकास पर सरकार नहीं दे रही ध्यान

1 min read

-अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त गया की अनदेखी भारत और बिहार सरकार के द्वारा- विजय मिठु.

गया : गया (Gaya) अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह मगध प्रमंडल कांग्रेस प्रवक्ता प्रो विजय कुमार मिठू ने कहा कि ” अतिप्राचीन, अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त, विश्व पर्यटन मानचित्र पर अपना स्थान रखने वाला गया शहर ” के विकास को केंद्र एवं राज्य सरकार ने पूरी तरह अनदेखी किया है जिसका खामियाजा आगामी विधानसभा चुनाव में डबल इंजन वाली सरकार को भुगतना होगा।प्रो मिठू ने कहा कि गया की जनमानस के द्वारा लगातार मांग एवम् आवाज बुलंद करने के बाद भी गया शहर को देश के स्मार्ट शहरों की सूची में शामिल नहीं करना, विश्व प्रसिद्ध सीताकुंड मन्दिर को देश के रामायण सर्किट से नहीं जोड़ना केंद्र सरकार की भारी बेरुखी कहीं जाएगी, तो दूसरी ओर राज्य सरकार द्वारा वर्षों से लंबित फल्गु नदी पर बियर बांध जिसका काम विधानसभा चुनाव से पहले शुरू करने की बाते भी झूठ साबित होने को है,तथा गया को पटना से जोड़ने वाली राष्ट्रीय राजमार्ग भी 2014 से अभी तक नहीं बनने से लोगो में भारी गुस्सा है। प्रो मिठू ने कहा कि सूबे कि राजधानी पटना के बाद राज्य का सबसे महत्वपूर्ण गया जिला के कई महत्वपूर्ण योजनाएं दूसरे जिला में स्थानांतरित कर दिया गया, जैसे बिहार स्पोर्ट्स (sport) अकादमी, सी अाई एस एफ कैंप, तारा मंडल आदि।
प्रो मिठू ने कहा कि गया शत का एकमात्र गांधी मैदान में स्थित स्टेडियम (stadium) पूरी तरह जर्जर है, तो अनुग्रह पूरी कॉलोनी स्थित इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम भी कबाड़ा बना हुआ है, तथा राज्य सरकार द्वारा वर्षों से प्रस्तावित भूसुंडा मेला ग्राउंड में बनने वाली नया स्टेडियम का भी काम अभी तक शुरू नहीं हुआ है,जो गया जैसे शहर के लिए तौहीनी की बात है,जहां एक भी खेल का स्टेडियम सही नहीं है।प्रो मिठू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी द्वारा लगातार इन सभी मुद्दों को प्रमुखता से उठाया जाता रहा है तथा केंद्र एवम् राज्य सरकार को ज्ञापन भी दिया गए, लेकिन अभी तक डबल इंजन की सरकार के कं पर जू तक नहीं रेंगी है.

रिपोर्ट : धीरज गुप्ता