Sun. Apr 11th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

गया : जिलाधिकारी ने रक्तदान शिविर का किया उद्घाटन, लोगों से कोरोना से बचाव के लिए मास्क की बताई जरुरत

2 min read

खालसा ब्लड डोनर्स रक्तदान शिविर का जिलाधिकारी ने किया उद्धाटन
जिलाधिकारी ने गयावासियों को कहा कि जिस तरह से 4 साल की बच्ची भी कोरोना वायरस को समझ कर डेली हाइजीन में अपनी मास्क को प्रयोग कर रही है। उसी तरह से हम सभी लोग घर से बाहर निकलें तो मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें.
दीप प्रज्ज्वलन कर रक्तदान शिविर का हुआ उद्घाटन.

गया : (Gaya) गया गुरुद्वारा (Gurudwara) अवस्थित खालसा ब्लड डोनर्स रक्तदान शिविर का उद्घाटन जिलाधिकारी (Collector), गया अभिषेक सिंह (Abhishek Singh) के कर कमलों द्वारा दीप प्रज्वलन कर
किया गया है। दीप प्रज्वलन के पूर्व रक्तदान कर रहे आशुतोष कुमार एवं सिंगरम कुमार से जिलाधिकारी ने हालचाल पूछा एवं रक्तदान कर रहे दोनों व्यक्तियों के ब्लड ग्रुप के संबंध में पूछने पर बताया गया कि दोनों का ब्लड ग्रुप (blood group) बी (b) पॉजिटिव (Positive) था। जिलाधिकारी ने खालसा ब्लड डोनर एवं रोटरी क्लब को ओ(o+) पॉजिटिव ब्लड डोनर को भी चिन्हित कर ब्लड व्यवस्था रखने का सुझाव दिया है। जिलाधिकारी ने उन लोगों का हौसला अफ़जाई करते हुए कहा कि रक्तदान महादान है, रक्तदान करने से कोई दिक्कत नहीं होती है। हर व्यक्ति को अपना रक्तदान करना चाहिए। जिलाधिकारी ने अपने संबोधन में कहा कि खालसा ब्लड डोनर एवं रोटरी क्लब द्वारा गुरुद्वारा के प्रथम तल्ले के कमरों में ब्लड डोनेशन (donation) का कैंप (camp) लगाया गया है। यह बहुत खुशी की बात है कि 20 से 25 साल के अनेक नौजवान अपना ब्लड डोनेट(रक्तदान) कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस समय कोविड 19 (Covid), कोरोना वायरस (Corona virus) वैश्विक महामारी से हम सभी लोग कहीं ना कहीं प्रभावित हैं और लोगों में एक डर सा है उसमें भी ऐसे नौजवान इस भय से मुक्त होकर आकर अपना ब्लड डोनेट कर रहे हैं और यह ब्लड उन लोगों तक जाएगा, जिनको आवश्यकता है।


उन्होंने कहा कि मानवता के लिए इससे बड़ी सेवा के दौर में नहीं कर सकते हैं। गया जिले के नौजवानों को आह्वान किया कि ब्लड डोनेट करने के बारे में कई भ्रांतियां रहती है उससे किसी को डरने की आवश्यकता नहीं है। रक्तदान बहुत जरूरी है, हमारे शरीर से जो ब्लड डोनेट होता है, वह शरीर में फिर से बहुत जल्द ही बन जाता है। सभी का ब्लड रिसर्क्युलेट होते रहता है। वे सभी लोग जो नौजवान ग्रुप में है और जो ब्लड डोनेट कर सकते हैं वैसे व्यक्ति ब्लड डोनेट कर सकते हैं। आज रक्तदान दिवस के अवसर पर गया वासियों के लिए उन्होंने कहा कि इस कोरोना महामारी का हम मिलकर मुकाबला करेंगे। आप सभी घरों से जब भी बाहर निकले मास्क पहन कर निकलें, लोगों को भी मास्क पहनने के लिए प्रेरित करें एवं सभी दुकानदार एवं धार्मिक संस्थान के प्रबंधक लोगों से मास्क पहनकर आने का अनुरोध करें। गयावासियों से ब्लड डोनेट करने की अपील की ताकि जरूरतमंदों को ब्लड मिल सके।
जिलाधिकारी ने कहा कि कई हजारों वर्ष की हमारी सभ्यता है और यह मानव जाति बहुत संकटों का सामना करके इससे उबरकर बाहर आई है और आज की तिथि में कोरोना एक अप्रत्याशित संकट है जिसमें कि हम सबके अंदर जो बेहतर इंसान है वह निकल कर बाहर आ रहा है और आज की तिथि में यह आवश्यक है कि ऐसे व्यक्ति ज्यादा से ज्यादा अपना ब्लड डोनेट करें एव उन्होंने सभी भाइयों एवं बहनों जो इस ब्लड डोनेशन के अवसर पर गुरुद्वारा कंपलेक्स, रेड क्रॉस कंपलेक्स, अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल (Magadh Medical Hospital) या विभिन्न जगहों पर जो भी ब्लड डोनेट कर रहे हैं उन सबों को तहे दिल से जिला प्रशासन, गया की ओर से, राज्य सरकार की ओर से एवं गयावासियों की ओर से धन्यवाद एवं बधाई दी है आने वाले समय में ब्लड डोनेशन के लिए और ज्यादा से ज्यादा उदाहरण मिलेंगे। जिससे हमारा भाईचारे में, लोगों की मदद करने की, मानवता में जो विश्वास है, वह और भी अधिक बढ़ता जाएगा, प्रबल होता जाएगा और इस संकट से उबर कर हम सब बहुत जल्द वापस लौटेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि आध्या नागेन जो महज 4 साल की बच्ची है, वह मास्क पहन रही है। जिलाधिकारी ने गयावासियों को कहा कि जिस तरह से 4 साल की बच्ची भी कोरोना वायरस को समझ कर डेली हाइजीन में अपनी मास्क (Masks) को प्रयोग कर रही है। उसी तरह से हम सभी लोग घर से बाहर निकलें तो मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें। इस अवसर पर सिविल सर्जन बीके सिंह, डीपीएम स्वास्थ्य (DPM Health) श्री निलेश कुमार, गुरुद्वारा के मेंबर प्रेसिडेंट सरदार भगवान सिंह, गुरुद्वारा के वाइस प्रेसिडेंट सह खालसा ब्लड डोनर्स के फाउंडर रौनक सिंह, खालसा ब्लड डोनर्स के सचिव शुभम श्रीवास्तव, रोटरी क्लब सेंटर (center) के प्रेसिडेंट (President) एडवोकेट अंशु नागेन उपस्थित थे।

रिपोर्ट : धीरज गुप्ता