Tue. Apr 20th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

कैमूर : बिहार यूपी सीमा पर पहुंचे प्रवासियों की नहीं ले रहा कोई सुध..पैदल ही निकल पड़े अपने ठिकाने को

1 min read

कैमूर : कैमूर जिले के एनएच 2 के रास्ते मोहनिया पहुंचे दिहाड़ी मजदूरों ने बिहार सरकार के व्यवस्था पर सवाल खड़ा कर दिया है। मजदूरों को उनके गृह जिला जाने के लिए बॉर्डर से नहीं मिला कोई साधन तो पैदल ही पटना ,समस्तीपुर और औरंगाबाद जाने के लिए सैकड़ों मजदूरों का जत्था सर पर अपना समान लेकर गुजरा । मजदूरों मे बच्चे,महिलाए और युवक थे शामिल। बिहार सरकार सभी मजदूरों का बॉर्डर पर मेडिकल चेकअप कराते हुए खाने पीने की व्यवस्था के साथ उन्हें गृह जिला भेजने के लिए मुकम्मल व्यवस्था होने की बातें कह दी थी, लेकिन आदेश के अगले दिन ही इस बार्डर पर कुव्यवस्था देखने को मिला। जहां से सैकड़ों मजदूर पैदल ही अपने घरों के लिए निकल पड़े । वहीं खबर बनाने के दौरान पत्रकारों की सहायता से एक ट्रक पर बैठाया गया, जो उनको कुछ दूर तक लेकर जाएंगे। जिससे राहें उनकी आसान होगी।

मजदूरों ने बताया कोई दिल्ली हरियाणा चित्रकूट से पैदल ही चला है nh-2 के रास्ते। बिहार यूपी के बॉर्डर का करमनासा पहुंचे जहां कुछ लोगों का स्क्रीनिंग हुआ तो कुछ लोगों का स्क्रीनिंग भी नहीं हुआ, कुछ को खाने का पैकेट मिला तो कुछ बिना खाए ही आगे बढ़े । ना तो बॉर्डर पर कोई बस खड़ा मिला और ना ही कोई वहां इन मजदूरो को रुकवाने वाला मिला। जहां से हम लोग चले हैं, वहां से पैदल ही निकले कुछ दूर किसी ने लिफ्ट दे दिया तो राहें आसान हुई फिर पैदल ही चले। बॉर्डर से कुछ लोगों द्वारा ट्रक मे बैठाया गया जो 15 किलोमीटर बाद ही ट्रक वाला उतार दिया, इसके बाद हम लोग पैदल जा रहे हैं ।

रिपोर्ट : सोनु कुमार सिंह