Thu. May 13th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

कैमूर : बिहार. यूपी सीमा पर राजद के बैनर तले बांटी जा रही राहत सामग्री को प्रशासन ने रोका.. घंटों चला हाई भोल्टेज ड्रामा

1 min read

कैमूर : कैमूर जिले के बिहार यूपी बॉर्डर पर तेजस्वी भोजनालय का बैनर लगाकर राजद द्वारा कैंप लगाया गया था, जिसमें बाहर से आ रहे प्रवासी मजदूरों को मुफ्त में खाना खिला जा रहा था जैसे ही प्रशासन को सूचना मिला कि किसी पार्टी विशेष का nh2 के किनारे कैंप लगाया गया है आनन-फानन में मोहनिया एसडीएम शिव कुमार राऊत, मोहनिया डीएसपी रघुनाथ सिंह सहित दर्जनों पदाधिकारी पहुंचे बॉर्डर । पहले बैनर हटाने के लिए माइक से किया गया अलाउंस, राजद के लोगों को 10 मिनट के अंदर टेंट खाली करने का माइक से अलाउन्स किया गया। लेकिन राजद द्वारा बार-बार कहा जा रहा था हम लोग अपने हाथों से अपने पार्टी के बैनर को नहीं हटा सकते आपको हटाना है तो आप स्वयं हटाइए कोई और नहीं हटाएगा। उसके बाद राजद के सभी कार्यकर्ताओं के हाथ में मोबाइल फोन से पूरे मामले को शूट करते देखा गया तो कोई फोन करने में व्यस्त दिखा। हाई वोल्टेज ड्रामा होने के बाद भी पार्टी विशेष का नहीं हटाया जा सका बैनर ।
राजद के लोगों ने बताया इस आफत की घड़ी में कई जगहों से लोग पैदल भूखे प्यासे आ रहे हैं, अगर हम लोग उनको सेवा भाव से खाना खिला रहे हैं तो इसमें किसी को क्यों आपत्ति होना चाहिए। हम लोग अपने प्रदेश अध्यक्ष और तेजस्वी यादव के निर्देश पर यह कार्यक्रम चला रहे हैं। ऐसा नहीं कि कैमूर जिला में ही केवल हो रहा है जितने भी बिहार के बॉर्डर है सभी जगहों पर हम लोगों का कैंप लगा हुआ है। अगर प्रधानमंत्री और बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा नमो आहार का पैकेट दिया जा सकता है तो तेजस्वी भोजनालय क्यों नहीं चल सकता। लेकिन ऊपर के लोगों के दबाव में प्रशासन आनन-फानन में यह कर रहा है। लेकिन हाई वोल्टेज ड्रामा से अभी तक कुछ नहीं हुआ एक बैनर तक नहीं उनके द्वारा हटाया जा सका।
मोहनिया एसडीएम शिव कुमार रावत बताते हैं सरकारी जमीन पर बिना परमिशन लिए पार्टी विशेष का बैनर लगाकर शिविर चलाया जा रहा है जो गलत है कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।
वही तेजस्वी यादव का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें तेजस्वी यादव कह रहे हैं कृपया भोजनालय को प्रशासन ना हटाए, आप राजद के बैनर के जगह बीजेपी या जदयू जो बैनर लगाना है लगा ले, क्योंकि सरकार के इंतजाम सही नहीं होने के कारण ही कई मजदूरों द्वारा भोजनालय में खाना खाया जा रहा है। जो प्रमाण है कि या तो यह खाना अच्छा मिल रहा है या फिर सरकार के इंतजाम उनके लिए काफी नहीं है ।

रिपोर्ट : सोनू कुमार सिंह