Sun. Apr 11th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

कैमूर : नहीं रुक रहा मजदूरों का पलायन.. एन एच पर साइकिल और पैदल ही निकल पड़े अपने मुकाम की ओर

1 min read

कैमूर : कैमूर जिले के nh2 के रास्ते दूसरे राज्यों में जाने के लिए मजदूरों का पलायन लगातार जारी है। कोई अपने घरों के लिए पैदल निकला है तो कोई साइकिल से तो कोई रिक्शा चला कर जा रहा है। सरकारें मजदूरों के हितों में काम करने के लिए कई वादे कर रही है लेकिन जो रोजी-रोटी की तलाश में शहरों में गए थे उन्हें गांव तक सुरक्षित कैसे पहुंचाया जाए इस पर कोई सरकार ध्यान नहीं दे रही है। कई मजदूर घर वापसी के दौरान काल के गाल में भी समा चुके हैं, फिर भी सरकार का घोषणाओं के अलावा धरातल पर मजदूरों के हितों में घर वापसी का रास्ता नहीं दिख रहा है। तभी तो मजदूरों का ताता प्रति दिन लगा रहता है।

छोटे-छोटे बच्चे और महिलाएं को लेकर साइकिल से दर्जनों मजदूरों का झुंड निकला बंगाल के लिए । यह सभी मजदूर यूपी के भदोही जिले में कालीन का काम करते थे। लॉक डाउन में फंस गए, जब इनके पास पैसे खत्म हुए तो घर जाने के अलावा नहीं दिखा कोई रास्ता। घरवालों का पेट पालने के लिए गए थे शहर कमाने लेकिन लाक डाउन के कारण नहीं हो पाई कमाई तो घरवालों से पैसा मांगा कर सभी ने किए साइकिल की खरीदारी फिर निकले घरों के लिए ।

मजदूर बताते हैं हम सभी लोग बंगाल के रहने वाले हैं। सभी एक साथ उत्तर प्रदेश के भदोही में कालीन का काम करते थे। कुछ लोग पहले से वहां करते थे और कुछ लोग लॉक डाउन से 3 दिन पहले पहुंचे थे । अचानक लॉक डाउन हो गया पास में रह सारे पैसे जब खत्म हो गए तब अंत में घर से पैसे मंगाकर साइकिल की खरीदारी की है। फिर अपने घर के लिए हम लोग जा रहे हैं। भूखे मरने से अच्छा है की कितने भी दिन लगे हम लोग अपने बंगाल घर को लौट ही जाएंगे। बंगाल जाने के लिए किसी सरकार ने हमारी कोई मदद नहीं की । कई जगहों पर गुहार लगाएं । ऐसे विकट परिस्थिति में भी सरकार हम लोगों की नहीं सुन रही है।

रिपोर्ट : सोनु कुमार सिंह