Wed. Apr 14th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

मनीष-ट्विंकल ने लिया संकल्प- हम दो हमारे दो बच्चे रहेंगे

1 min read

मनीष ने कहा कि सभी को परिवार नियोजन की विधियां अपनानी चाहिए

शिवहर : परिवार नियोजन अपनाकर जनसंख्या में कमी लाना है। जिससे परिवार खुशहाल रहेगा और बच्चों का लालन पालन भी सुचारू रूप से हो सकेगा। बुजुर्गो की भांति वे गलती नहीं करेंगे, क्योंकि बुजुर्गो ने जो लगती कर अधिक संतानें पैदा की हैं, उसका खामियाजा देश भी भुगत रहा है। देश की जनसंख्या काफी बढ़ गई है। यह कहना है तरियानी प्रखंड के माधोपुर छाता निवासी मनीष कुमार का। मनीष ने कहा कि सभी को परिवार नियोजन की विधियां अपनानी चाहिए, जिससे परिवार सीमित रहे। दो से ज्यादा बच्चे नहीं होना चाहिए।

अधिक परिवार से बढ़ जाती है समस्यायें
मनीष का कहना है कि हम दो हमारे दो संतानें होनी चाहिए, जिससे अपने बच्चों का सही लालन पालन कर अच्छी शिक्षा दे सकते हैं। मनीष और उनकी पत्​नी ट्विंकल ने दो बच्चों के बाद तीसरा बच्चा नहीं होने दिया। उन्होंने संकल्प लिया है कि हमारे दो बच्चे ही रहेंगे। जिससे हमारा परिवार सुखी रहेगा। अधिक परिवार बढ़ने से समस्यायें बढ़ जाती हैं। मनीष की पत्नी ट्विंकल ने कहा कि परिवार नियोजन की विधियां अपना कर वह सुखी जीवन व्यतीत कर रही हैं।

देश की तरक्की के लिए भी जनसंख्या में कमी जरूरी
माधोपुर गांव के ही युवा संजय ने कहा कि कम संतान सुखी इंसान। यदि कम संतानें होंगी तो इंसान सुखी रहेगा। परिवार नियोजन की स्थायी व अस्थायी विधियों को अपनाकर परिवार नियोजित रख सकते हैं। संजय को एक बच्चा है। वे कहते हैं कि बढ़ती महंगाई में बड़े परिवार का खर्च झेलना मुश्किल हो गया है, जिससे संतानें कम होनी चाहिए। इसके अलावा देश की तरक्की के लिए भी जनसंख्या कम होना चाहिए।

मिशन परिवार विकास अभियान जारी
मिशन परिवार विकास अभियान के तहत आम जनता को छोटे परिवार के महत्व और परिवार नियोजन के वैकल्पिक उपायों की जानकारी देने के लिए मिशन परिवार विकास अभियान जारी है। इसके तहत केयर इंडिया और राज्य स्वास्थ्य समिति के संयुक्त तत्वावधान में कर्मियों की टीम गांव-गांव तक पहुंचकर लोगों को जागरूक कर रही है। सुदूर ग्रामीण इलाकों में सघन अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही जागरूकता रथ निकाल लोगों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक किया जा रहा। महिलाओं को काॅपर – टी, छाया, कंडोम, अंतरा समेत अन्य वैकल्पिक उपायों की जानकारी दी जा रही है।

कोरोना काल में इन उचित व्यवहारों का करें पालन,-
– एल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
– सार्वजनिक जगहों पर हमेशा फेस कवर या मास्क पहनें।
– अपने हाथ को साबुन व पानी से लगातार धोएं।
– आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
– छींकते या खांसते वक्त मुंह को रूमाल से ढकें।

रिपोर्ट : अमित कुमार