Sun. May 16th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

नालंदा : हरनौत रेल कारखाना के कर्मी मनाया काला दिवस.. सरकार की नीतियों का किया विरोध

2 min read

मजदूर व कर्मचारी विरोधी नीतियों के विरोध में काला दिवस मनाया …

* हरनौत रेल कारखाना में कर्मचारियों ने फूंका बिगूल

नालंदा (बिहार) हरनौत : (Nalanda) ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन (All India Railway Men’s Federation), नई दिल्ली, ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी (Staff) युनियन, हाजीपुर (Hajipur) के आह्वान और महामंत्री कामरेड एस एन पी श्रीवास्तव के दिशा-निर्देश पर सवारी डिब्बा मरम्मत कारखाना की हरनौत (Harnaut) शाखा के द्वारा सोशल डिस्टेंस (Social distance) का पालन करते हुए काला दिवस मनाया गया।
शाखा सचिव पुर्णानंद मिश्रा ने बताया कि केंद्रीय कर्मचारियों को मिलने वाले मंहगाई भत्ते तथा सेवानिवृत्त कर्मियों के भी मंहगाई राहत वेतन पर जनवरी, 2020 से जुलाई 2021 तक रोक लगाने के तुगलकी फरमान जारी करने, श्रम नियमों में परिवर्तन कर मजदूर वर्ग के कार्य घंटों में वृद्धि एवं अन्य हितों में कटौती करते हुए उद्योगपतियों के फायदे के अनुरूप केंद्र सरकार का एकपक्षीय निर्णय है। इसी के विरोध में आज काला दिवस मनाया गया।
इसके लिए रेल, वित्त मंत्री, रेलवे बोर्ड अध्यक्ष और कैबिनेट सचिव को पत्र के माध्यम से विरोध जताया जा चुका है। लेकिन सरकार के अड़ियल रवैये ने हमें विरोध को मजबूर किया।
जबकि, कोरोना संकट में हमने कोरोना वारियर्स (Corona warriors) के रुप में काम किया। जब पूरी दुनिया स्थिर थी। उस समय मालगाड़ी का परिचालन करके देश के एक कोने से दूसरे कोने तक आवश्यक सामग्रियों की सप्लाई में योगदान किया। कोरोना संकट में प्रत्येक रेल कर्मी ने एक दिन का वेतन पीएम केयर फंड में जमा कराया। आगे भी हर तरह की सहायता को वचनबद्ध हैं।
इसके बाद भी सभी कर्मियों व पेंशनरों की डीए बढ़ोतरी पर रोक लगाने से प्रत्येक को 75 हजार से दो लाख का नुकसान होने का अनुमान है। इसी को लेकर एक से छह जुन तक विरोध सप्ताह और आज काला दिवस मनाया गया।
इसमें मुख्य रुप से कोषाध्यक्ष मनोज मिश्रा, सहायक सचिव राकेश रंजन, उपाध्यक्ष प्रमोद गौतम, संगठन सचिव चंद्रशेखर भारती, अजीत, अशोक, मिथलेश व अन्य उपस्थित थे।

रिपोर्ट : गौरी शंकर प्रसाद