Mon. Apr 12th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

नालंदा : निजी जमीन पर पौधारोपण को मिलेगा प्रोत्साहन.. पौधारोपण अभियान से आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को मदद देने की कवायद शुरू

1 min read

-निजी जमीन पर पौधारोपण को प्राथमिकता

* वनपोषक का मिलेगा लाभ

नालंदा (बिहार) : हरनौत (Harnaut) प्रखंड में मनरेगा से चलने वाले पौधारोपण अभियान के लिए कागजी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। आर्थिक रुप से कमजोर अथवा प्रवासी कामगार अपनी निजी जमीन उपलब्ध हो तो वे भी पौधारोपण करवा सकते हैं। इससे उन्हें वनपोषक का लाभ मिलता है। ये जानकारी कार्यक्रम पदाधिकारी शिवनारायण लाल ने दी।
उन्होंने बताया कि प्रखंड में कम से कम 28 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य है। आवश्यकतानुसार लक्ष्य बढ़ाया भी जा सकता है।
निजी जमीन पर पौधारोपण को प्राथमिकता दी जानी है। क्योंकि पौधे ज्यादा सुरक्षित रहते हैं। निजी जमीन पर कम से कम एक युनिट पौधारोपण होगा। एक युनिट में दो सौ पौधे लगते हैं। इनमें फलदार के साथ इमारती लकड़ी के भी पौधे लगाये जाते हैं। निजी जमीन पर एक युनिट पौधे पर जमीन मालिक को वनपोषक का लाभ मिलता है। इसमें प्रत्येक वर्ष सौ दिन की मजदूरी वर्तमान प्रावधान से पांच वर्ष के लिए दी जाती है। इसके लिये सभी पौधों का रखरखाव जरुरी होगा। पेड़ से मिलने वाले फल-फूल व जलावन इन पर जमीन मालिक का ही अधिकार होता है। मनरेगा से पौधे लगाने के लिए प्रोत्साहन की यह योजना है।
इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों पर पौधारोपण के लिए डाटा कार्यालय से इकट्ठा किया जा रहा है। सार्वजनिक स्थानो पर पौधारोपण के लिए वृद्ध, दिव्यांग व विधवा को प्राथमिकता दी जानी है।

रिपोर्ट : गौरी शंकर प्रसाद