Tue. Apr 20th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

असहाय बच्चे रिशु के टूटे हाथ का ऑपरेशन करा कायम की मानवता की मिसाल

1 min read

 जिला अनुश्रवण पदाधिकारी विनय कुमार सिंह व डॉ चंद्र सुभाष ने कहा लोगों की सेवा करने से मिलती है खुशी

मोतिहारी: मोतिहारी सदर अस्पताल में अनुश्रवण पदाधिकारी के तौर पर लगभग 15 वर्षों से कार्यरत विनय कुमार सिंह हमेशा निस्वार्थ भाव से लोगों की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं। उन्होंने सात वर्षीय असहाय बच्चे रिशु के टूटे हाथ का ऑपरेशन कराकर मानवता की मिसाल कायम की है। उन्होंने बताया कि जिला स्वास्थ्य समिति के उनके ऑफिस के पास मोतिहारी कोल्हवरवा की रहने वाली 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला रो रही थी। जब उन्होंने उससे कारण जाना तो उस बूढ़ी औरत ने बताया कि वर्षों पूर्व उसके बेटी और दामाद की मौत हो चुकी है। उसे तीन नाती-नातिन है। जिनका गुजारा मुश्किलों से हो पाता है। इसी बीच 7 वर्षीय नाती रिशु की हाथ की हड्डी टूट गई है। जिसका इलाज कराना मेरे लिए संभव नहीं है।

दयनीय स्थिति देख दिखाई तत्परता
विनय सिंह ने बच्चे की दयनीय स्थिति को देख तत्परता दिखाते हुए अस्पताल के डॉक्टरों को सूचित किया। डॉक्टरों ने बच्चे की स्थिति को देखते हुए पटना रेफर किया। परन्तु बूढ़ी औरत ने बाहर जाने से मना कर दिया। ऐसी हालत में कैसे बाहर जाऊ कह कर बूढ़ी औरत रोने लगी। विनय सिंह बताते हैं कि मैंने सोचा कि ईश्वर की यह मर्जी है कि मैं यह काम करूं। वे तुरंत मोतिहारी के प्रसिद्ध हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर चंद्र सुभाष से संपर्क कर बच्चे की टूटे हड्डी के इलाज के बारे में बात की। जिस पर डॉक्टर ने सहमति जताते हुए 3 घंटे के ऑपरेशन के बाद प्लेट लगाकर 7 वर्षीय बच्चे रिशु का इलाज किया।

नेक काम के लिए मिली सराहना
बता दें कि रिशु का हाथ बुरी तरह टूट गया था। चार दिन पुराना घाव होने के कारण उसमें इंफेक्शन हो गया था। जिसे डॉ. चंद्र सुभाष द्वारा नि:शुल्क ऑपरेशन किया गया। अब रिशु स्वस्थ है। इस कार्य में सौरभ कुमार ने भी काफी योगदान दिया। जिला डाटा एवं सांख्यिकी पदाधिकारी विनय कुमार सिंह ने कहा कि इस कार्य के लिए ईश्वर से मुझे प्रेरणा मिली। उनके इस कार्य पर सिविल सर्जन डॉ. अखिलेश्वर प्रसाद सिंह एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मी सहित समाजसेवियों ने उन्हें धन्यवाद दिया है।

रिपोर्ट : अमित कुमार