Wed. Apr 14th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

पटना : क्वारेंटाइन सेंटर पर हो पर्याप्त व्यवस्था ..मुख्यमंत्री ने वरीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में दिया निर्देश

1 min read

पटना 08 मई 2020 : मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने मुख्य सचिव एवं अन्य वरीय अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की। बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर किये जा रहे उपायों पर विस्तृत चर्चा हुयी।

समीक्षा के क्रम में मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को स्पष्ट निर्देश दिया कि प्रखण्ड क्वारंटाइन केन्द्रों में रह रहे लोगों की संख्या के अनुपात में किचेन की संख्या बढ़ायी जाय ताकि समय पर लोगों को गुणवत्तापूर्ण भोजन मिल सके। उन्होंने कहा कि आपदा प्रबंधन विभाग इसका सतत् अनुश्रवण भी करता रहे। उन्होंने कहा कि क्वारंटाइन केन्द्रों पर आवासितों की संख्या के अनुपात में शौचालय एवं स्नानागार की भी पर्याप्त व्यवस्था रहे। साथ ही वहाॅ पानी, बिजली एवं साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रखण्ड क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्थाओं का जिले के वरीय पदाधिकारी नियमित निरीक्षण एवं अनुश्रवण करें। वे प्रखण्ड क्वारंटाइन केन्द्रों पर आपदा प्रबंधन विभाग के एस0ओ0पी0 के अनुसार सभी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करायें तथा आपदा प्रबंधन विभाग भी इसका सतत् अनुश्रवण करता रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमितों की काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग के साथ-साथ रणनीति बनाकर रैंडम टेस्टिंग की व्यवस्था में भी तेजी लायें। उन्होंने कहा कि रेड जोन में आने वाले लोगों की प्राथमिकता के आधार पर टेस्टिंग करायें। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जिलों में टेस्टिंग हेतु ट्रूनैट किट्स की सुविधा शीघ्र फंक्शनल करें तथा यह सुनिश्चित करें कि वहाॅ भी टेस्टिंग किट की पर्याप्त उपलब्धता हो।

मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुये कहा कि कोरोना संक्रमण के इलाज के अलावा अन्य बीमारियों के इलाज की व्यवस्था का सघन अनुश्रवण हो ताकि आम मरीजों को परेशानी न हो। इसके लिये अस्पतालों में प्रबंधन व्यवस्था को भी सुदृढ़ रखें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विदेशों से भी लोग आयेंगे, उनके संबंध में विदेश मंत्रालय से समन्वय बनाये रखें तथा उनके लिये भी तय प्रोटोकाॅल के अनुसार टेस्टिंग एवं क्वारंटाइन की समुचित व्यवस्था रखी जाय।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनप्रतिनिधियों से समन्वय बनाकर लोगों को जागरूक करते रहें। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की गंभीरता को समझना होगा। लोग धैर्य बनाये रखें, गाइडलाइन्स के अनुरूप सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, तभी कोरोना को हराने में सफलता मिलेगी।

रिपोर्ट : राजू राज