Tue. Apr 20th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

पटना : महिला फेडरेशन के आह्वान पर बिहार महिला समाज ने दिया धरना.. काम के घंटे को बढ़ाए जाने का किया विरोध..

1 min read

पटना : मजदूरों के काम के घंटे बढ़ाए जाने, मजदूरों को सुरक्षित घर वापसी जैसे मुद्दे को लेकर आज बिहार महिला समाज ने धरना दिया। यह धरना राज्य के विभिन्न जिलों में दिया गया।
भारतीय महिला फेडरेशन की तरफ से किए गए राष्ट्रीय आह्वान का समर्थन करते हुए बिहार महिला समाज ने इस मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए कहा की लाँक डाउन का बहाना कर सरकार मजदूरों के अधिकारों पर हमला कर रही है।
संगठन की कार्यकारी अध्यक्ष निवेदिता झा ने कहा देश की आर्थिक हालात को बेहतर करने में जिन मजदूरों का खून पसीना लगा है उन मजदूर के अधिकारों पर सरकार हमला कर रही है। सरकार की लापरवाही के कारण रेल की पटरी पर सो रहे मजदूरों की मौत हो गई। भूखे बदहाल मजदूरों की मदद करने के बजाय सरकार उनके अधिकारों को कुंद कर रही है उनके काम के घंटे बढ़ाए जा रहे हैं।
संगठन की अध्यक्ष सुशीला सहाय ने कहा कि जिस लंबी लड़ाई के बाद मजदूरों के काम के घंटे तय किए गए आज उनके अधिकारों पर फिर से हमले की तैयारी है। कई राज्य सरकारें लेबर लाँ में परिवर्तन के जरिए कामगारों के काम के घंटे को बढ़ाकर 12 घंटा करने वाली है यह अमानवीय है और मजदूरों के अधिकारों पर हमला है। इस नए फरमान से खासकर महिला कामगार ज्यादा प्रभावित होंगी।
बिहार महिला समाज ने सरकार से मांग कि प्रवासी मजदूरों की सुरक्षित घर वापसी के साथ काम के घंटे नहीं बढ़ाया जाए। बुजुर्गों, गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं तथा उनके परिवारों को प्राथमिकता दी जाए और जिन मजदूरों के ट्रेन हादसे में मृत्यु हुई उनके परिवारों को भी आर्थिक मुआवजा दें।

रिपोर्ट : आशीष कुमार