Tue. Apr 20th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

पटना : ग्रामीण कलाकारों के प्रोत्साहन के कार्यों की विभागीय स्तर पर हुई समीक्षा.. कोरोना जागरुकता में कलाकारों का होगा उपयोग

1 min read

पटना : कला संस्कृति एवं युवा विभाग द्वारा निदेशक सांस्कृतिक कार्य निदेशालय अनिमेष कुमार उपनिदेशक सांस्कृतिक कार्य निदेशालय संजय कुमार सिंह और उप सचिव सह सचिव बिहार संगीत नाटक अकादमी तारानंद महतो वियोगी के साथ कोरोना महामारी पर ग्रामीण कलाकारों के प्रोत्साहन के लिए चल रहे कार्यों की समीक्षा की गई। इसकी जानकारी कला संस्कृति एवं युवा विभाग के मंत्री प्रमोद कुमार ने दी है।
उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की रोकथाम एवं इससे प्रभावितों के सहयोग के लिए सरकार द्वारा कई कार्यक्रम जागरूकता संबंधी अभियान आदि जनहित कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसी क्रम में कला संस्कृति एवं युवा विभाग बिहार सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के लोक कलाकारों के कला का सम्मान करते हुए प्रोत्साहन राशि के निमित्त 18 अप्रैल 2020 एवं 22 अप्रैल 2020 को विज्ञापन के माध्यम से कोरोना महामारी पर सरकार द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों से संबंधित 15 से 20 मिनट का वीडियो ईमेल culturebihar@gmail.com पर अपलोड करने की सूचना प्रकाशित की गई है। जिसकी अंतिम तारीख 30 अप्रैल 2020 है। उन्होंने कहा कि विभाग में प्राप्त प्रविष्टियों का मूल्यांकन समिति के माध्यम से प्रदर्शन योग्य न्यूनतम गुणवत्ता वाले वीडियो का चयन करेगी। चयनित प्रविष्टियों में एकल  प्रस्तुति कर्ता को 1000 तथा समूह प्रस्तुति करता को 2000 की दर से उनके आधार लिंक बैंक खातों में राशि भुगतान किया जाएगा। इस चयनित प्रदर्शन योग वीडियो को जिला बार सूचीबद्ध कर संबंधित जिला प्रशासन को इस निर्देश के साथ भेजा जाएगा कि संबंधित जिला के जिला पदाधिकारी अपने मार्गदर्शन में चयनित प्रविष्टियों में इनका चयन कराएंगे और क्रमशः 10 हजार,5 हजार और 3000 की राशि का भुगतान संबंधित को करेंगे। जिला प्रशासन को संबंधित राशि विभाग से आवंटित किया जाएगा। कलाकार वीडियो का निर्माण अपने स्थान पर मोबाइल या अन्य माध्यम से सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए करें। आज 30 अप्रैल दोपहर 2:00 बजे तक कुल 605 वीडियो प्राप्त हुए हैं। उन्होंने बताया कि विभागीय मूल्यांकन समिति द्वारा प्राप्त वीडियो में से प्रदर्शन योग्य न्यूनतम गुणवत्ता वाले वीडियो का स्क्रीनिंग कर 50 चयनित संबंधित कलाकारों को राशि प्रथम सप्ताह तक सीएफएमएस के माध्यम से सीधे खाते में भेजी जा रही है।

रिपोर्ट : आशीष कुमार