Thu. May 13th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

समस्तीपुर : नई उम्मीद नया संकल्प फाउंडेशन’कर रहा प्रवासियों और मजबूरों की मदद.. ईद में भी मदद ही है मुख्य लक्ष्य

1 min read

समस्तीपुर : मुस्लिम के सबसे बड़े त्योहार ईद को अब चंद दिन बचे हैं पर देश पर आई विपदा की वजह से समस्तीपुर शहर के मुस्लिम ईद की तैयारी करते नहीं दिख रहे हैं बल्कि मुस्लिम युवा दूर दराज़ से अपने घरों को लौट रहे मज़दूरों की मदद कर रहे हैं साथ में जो लोग इस महामारी के शिकार हुए है उनके यहाँ राशन पानी का इन्तज़ाम किया जा रहा है।

समस्तीपुर के समाजसेवी रेयाज़ आलम ने बताया लाकडाउन अवधि में लगातार बढ़ोतरी होने से ग़रीबों की स्थिति दयनीय होती जा रही है, इस आपदा की घड़ी में की मेरी पारिवारिक संस्था नई उम्मीद नया संकल्प पहले लाकडाउन से ही ग़रीबों एवं मजबूरों की लगातार मदद का रही है। उन्होंने कहा कि इस महामारी में हमारा लक्ष्य है की कोई भी मज़दूर व ग़रीब भूखा न रहे तो हम समझ लेंगे की हमारी ईद हो गई। हमारी संस्था से जुड़े लोग ईद की तैयारियों के बजाय रोज़ जरूरतमंदों के लिए राशन किट तय्यार करते हैं जिसमें 10 किलो आंटा, 5 किलो चावल 2.5 किलो आलू और प्याज़, 2 किलो रिफ़ायन तेल, दाल, चीनी, चायपत्ति के साथ ईद त्योहार को ध्यान में रखते हुए ख़ास के मुस्लिम परिवार के लिय हैपी ईद किट का भी इन्तज़ाम किया गया है जिसमें इतर, सेवई, लच्छा, नान रोटी, पुलाव चावल, दूध आदि की व्यवस्था कि गई है और लगभग 100 मुस्लिम परिवारों तक इसे पहुँचाने का लक्ष है।

इसके साथ ही रेयाज़ आलम ने ईद त्योहार के दौरान लॉकडाउन का सख़्ती से पालन करने की अपील की है, उन्होंने कहा कि कोरोना को हराने के लिए ईद की नमाज़ अपने-अपने घरों में ही अदा करें।

रेयाज़ आलम ने मुस्लिम समुदाय के लोगों से अपील की है कि ईद की नमाज़ में दुआ करें की पूरे देश से कोरोना का संकट जल्द से जल्द खत्म हो जाए, साथ ही अपने देश को समृद्ध, सम्पन्न एवं स्वस्थ होने की कामना करें।

रिपोर्ट : साकिब ज़िया