Fri. May 14th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

समस्तीपुर : समाजसेवी रेयाज आलम ने दी ईद की मुबारकबाद… देश की समृद्धि और स्वस्थ होने की लोगों से दुआ करने की अपील की

1 min read

समस्तीपुर : समाजसेवी एवं ऑल इंडिया प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेल्फ़ेयर एसोसीएशन के संयुक्त सचिव रेयाज़ आलम ने सारे देशवासियों को ईद की मुबारकबाद दी है, उन्होंने कहा है कि ईद एक ऐसा त्योहार है जिसमे सभी अपने गिले शिकवे भूल कर एक दूसरे से गले मिल कर खुशिया बनाते है एक दूसरे के घर जा कर सिवई का लुत्फ़ उठाते है, खास कर बच्चे और औरतें पूरी तरह से कई दिनो तक लुत्फ़ उठाते है लेकिन इस बार की ईद पिछली ईद से कुछ अलग है, इस बार न तो कोई मिलना मिलाना रहेगा और न ही कोई जश्न का माहोल यहाँ तक कि ईद की नमाज़ भी ईदगाह में नहीं होगी सभी को घर में रह कर नमाज़ अदा करनी है।

जो लोग इसे सरकारी आदेश समझ रहे है वो गफ़लत में है, दर असल यह आदेश तो भगवान की तरफ़ से ही है और भगवान का कोई फ़ैसला बेवजह नहीं होता है इसी पर हर मुसलमान का ईमान है। ईमान पर कायम रहना ही मुसलमान की पहचान है और हम इस वक़्त जो कुछ भी कर रहे है उसका हुक्म हमें हमारे भगवान या ख़ुदा ने दिया है।

इस बार ईद के मौके पर पूरी दुनिया को उसके रब ने एक ऐसा पैगाम देने का मौका भी दिया है, जिसे पूरा करना हर एक के बूते की बात नहीं है, इस वक़्त जो महामारी फ़ैली हुई है और जिसकी रोक थाम मे पूरी दुनियां लगी है और जो रास्ता अख्तियार किया गया है वो कोई सरकारी फ़ार्मूला नहीं है, महामारी के फ़ैलने पर शोशल डिस्टेन्सिन्ग का तरीका तो हमें हमारे पैगम्बर मोहम्मद सल्ललाहु अले वसल्लम ने पहले ही बता दिया है, दुनिया के मुस्लिम ने रमज़ान के मुबारक महीने में, जुमा की नमाज़, तरावीह और अब ईद की नमाज़ अपने अपने घरो में अदा करके यह साबित कर दिया है कि जो रास्ता इस बीमारी से निजात पाने का हमारे पैगम्बर ने हमे बताया है उस पर हम हर हाल में खरे उतरे हैं।

कल ईद के दिन भी हम यही रास्ता अख्तियार करेंगे इन्शा अल्लाह अपने अपने घरो पर रह कर फ़ोन से ही मुबारक वाद पेश करेंगे, शैतान अपना काम जरूर करेगा पर हमको उसके बहकावे में नहीं आना है।

अंत में उन्होंने मुस्लिम समुदाय से देश को फिर से समृद्ध और स्वस्थ बनाने का अहवान किया और कहा की अल्लाह से दुआ करें की अगली बार हम सबको रमज़ान और ईद दोगुनी खुशी से अता करे।

रिपोर्ट : साकिब ज़िया