Sun. Apr 11th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

सीतामढ़ी : वीडियो कॉल कर होम आइसोलेशन वाले मरीज को तुरंत दिया जा रहा चिकित्सकीय परामर्श

2 min read

-होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों का लगातार किया जा रहा फॉलोअप

– मरीज का फोन आने पर वाट्सअप के जरिए वीडियो कॉल कर डॉक्टर देते हैं परामर्श

सीतामढ़ी 17 अगस्त : कोरोना संक्रमण (Corona infection) की रोकथाम और डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर पर सुविधाओं (Facilities at Prevention and Dedicated Covid Care Center) को लेकर जिलाधिकारी के निर्देश पर जिले में सराहनीय कार्य किये जा रहे हैं। उपचाराधीन मरीज के इलाज में स्वास्थ्य विभाग की तत्परता भी मिसाल कायम कर रही है। खुद अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सुरेंद्र कुमार चौधरी मरीज के एक फोन पर उसका हालचाल जानने और उचित परामर्श देने में जुटे रहते हैं। कोविड केयर के लिए स्टेट की ओर से नोडल अधिकारी डॉ सुरेंद्र ने सोमवार को वीडियो कॉल कर होम आइसोलेशन (Video call home isolation) में रह रहे पाचो साह नाम के एक मरीज को दवा लिखाई और बताये गए एहतियात को बरतने की सलाह दी। उक्त मरीज ने डायरिया की शिकायत की थी, जिसके बाद उसे फोन पर ही दवा लिखा कर उसे शुरू करने की सलाह दी।

पांच तरह की दवाओं का दिया जाता है जीपर :

डॉ सुरेंद्र कुमार चौधरी ने बताया कि होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों को एक जीपर दिया जाता है, जिसमें पांच तरह की दवाओं के अलावा जरूरत पडने पर डॉक्टर से बात करने के लिए मोबाइल नंबर भी दिया रहता है। टेली मेडिसिन (medicine) सेंटर के जरिये उनकी सेहत का लगातार फॉलोअप होता रहता है। होम आइसोलेशन वाले घरों की मॉनिटरिंग आशा करती हैं। कोरोना काल में एहतियात हर स्तर पर बरती जानी चाहिए। होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों के लिए अलग कमरा, शौचालय और उनके खाने-पीने के बर्तन अलग होने चाहिए। हाथ-मुंह पोछने वाले कपडे और तौलिया-गमछा सबकुछ अलग रहना चाहिए।

आईवीआरएस के जरिये मरीजों का क्विक रेस्पांस :

इंटरैक्टिव वायस रेस्पॉन्स सिस्टम (आईवीआरएस) (Interactive Voice Response System) (IVRS) के जरिये मरीजों का क्विक रेस्पॉन्स लिया जाता है। जिले के किसी भी इलाके से फोन आता है तो टेली मेडिसिन के जरिये मरीज के संबंधित ब्लॉक के डॉक्टर को तुरंत सूचित किया जाता है, ताकि उचित चिकित्सकीय परामर्श दिया जा सके। लगातार उनका फॉलोअप हो सके।

कारगर साबित हो रहा सजग रहें, सतर्क रहें का मूल मंत्र :

जिले में ‘सजग रहें, सतर्क रहें, परंतु भयभीत न हों’ का मूल मंत्र काफी कारगर सिद्ध हो रहा है। जिला प्रशासन की ओर से लोगों से अपील की जा रही है कि जैसे ही कोरोना के लक्षण महसूस हों तो तुरंत अपने नजदीकी सरकारी अस्पताल में संपर्क करें। टॉल फ्री नंबर 1800-345-6631 या जिला नियंत्रण कक्ष के नंबर 06226-250316 या जिला चिकित्सकीय परामर्श केंद्र के नंबर 06226-255106 या व्हाट्सअप नंबर 8544423038 पर सम्पर्क करें। जिला प्रशासन की ओर से लगातार लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उनसे अपील की जा रही है कि मास्क पहनकर ही बाहर निकलें, हमेशा सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करें, किसी भी प्रकार के लक्षण महसूस होने पर जिला प्रशसन के नंबर 06226…250316 पर सम्पर्क करें। सरकार के दिशा-निर्देशों का जरूर पालन करें। हम सब मिलकर ही कोरोना संक्रमण के चेन को रोक सकते हैं।

रिपोर्ट : अमित कुमार