Tue. Apr 20th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

आज जनप्रतिनिधि लेगें कोविड का टीका, अन्य का भी करेगें प्रोत्साहन

1 min read

 बैठने के लिए कुर्सी और पेयजल की भी होगी व्यवस्था
 बीमार जनप्रतिनिधियों को भी लगेगा टीका

सीतामढ़ी:  पूरे प्रदेश में अभी कोरोना टीकाकरण का तीसरा चरण चल रहा है। जिसमें 45 से 59 वर्ष के बीमार तथा 60 वर्ष के ऊपर के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। उसी कड़ी में शुक्रवार से पंचायती राज संस्थानों के जनप्रतिनिधियों तथा उनके द्वारा प्रेरित कर स्वास्थ्य संस्थान में लाए गए योग्य लाभुकों के टीकाकरण पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा। इसके लिए पंचायती राज प्रतिनिधियों के साथ प्रखंड विकास पदाधिकारी अपनी अध्यक्षता में कार्ययोजना तैयार करेंगे । यह आदेश राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने सभी सिविल सर्जन को दिया है और कहा कि सभी सिविल सर्जन अनुमानित लाभार्थियों की संख्या के अनुसार वैक्सीन, सिरिंज एवं कंजुमेबल चीजें उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे ।

टीकाकरण के लिए करेंगे प्रेरित
पंचायती राज के जनप्रतिनिधि खुद टीकाकरण कराएगें| साथ ही वे योग्य लोगों को टीकाकरण केंद्र तक लायेंगे । टीकाकरण के लिए योग्य व्यक्ति की उम्र में ऐसे लोग जिन्हें कोई बीमारी है वहीं उनकी उम्र 45 से 59 के बीच है या वह 60 से अधिक की उम्र के हैं। इस कार्य में जीविका दीदियां तथा आशा भी सहयोग करेंगी ।

वैक्सीन के फायदे बताना मुख्य लक्ष्य
सिविल सर्जन डॉ सतीश चंद्र सहाय वर्मा ने कहा कि इस योजना का मुख्य लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्रों तक वैक्सीन के लिए लोगों को अस्पताल तक लाना और टीकाकरण के फायदों को बताना है। इसमें आशा, प्रखंड विकास पदाधिकारी, पंचायती राज के प्रतिनिधि और जीविका दीदियों की अहम भूमिका होगी।

पेयजल और कुर्सी की भी व्यवस्था

डॉ वर्मा ने कहा कि वैक्सीन लेने के लिए भीड़ भी एकत्रित होगी इस संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। टीकाकरण में नियमों का पालन हो इसके लिए बैठने के लिए कुर्सी तथा पेयजल की भी व्यवस्था होगी | साथ में टीकाकरण सत्र पर जागरूकता के लिए बैनर, पोस्टर भी लगाया गया है। जो भी ज्यादा संख्या में टीकाकरण कराएगा जिला स्वास्थ्य समिति पुरस्कारों के माध्यम से उनका उत्साहवर्धन भी करेगा।

कोरोना काल में इन उचित व्यवहारों का करें पालन-
एल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
– सार्वजनिक जगहों पर हमेशा फेस कवर या मास्क पहनें।
– अपने हाथ को साबुन व पानी से लगातार धोएं।
– आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
– छींकते या खांसते वक्त मुंह को रूमाल से ढकें।

रिपोर्ट : अमित कुमार