Tue. Apr 20th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

वैशाली : आरोग्य दिवसपर महिलाओं के स्वास्थ्य की हुई जांच.. जेई के भी पड़े टीके

1 min read

वैशाली 8 मई : जिले में संचालित हो रहे आंगनबाड़ी केंद्रों पर शुक्रवार को चहल पहल दिखी। लाॅकडाउन के लंबे अंतराल में जिले के विभिन्न प्रखंडों में आरोग्य दिवस मनाया गया। मालूम हो कि 6 मई से सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर टीकाकरण को मंजूरी दे दी गयी है। टीकाकरण के नहीं होने से गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच और टीकाकरण जैसे अतिमहत्वपूर्ण कार्य प्रभावित थे। इस दौरान आंगनबाड़ी केंद्रों पर गर्भवती महिलाओं को गर्भ से संबंधित जानकारियां दी गई। जांच के दौरान उन्हें उनके ब्लड प्रेशर, वजन, रक्त में हेमोग्लोबीन की उपस्थिति की जांच के अलावा टीकाकरण, कैल्शियम एवं आयरन की गोली भी दी गयी। वहीं आंगनबाड़ी के द्वारा सभी लाभार्थियों को विभिन्न प्रकार की सेवा तथा परामर्श के बारे में बताया। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक सप्ताह के बुधवार और शुक्रवार को आरोग्य दिवस के रुप में मनाया जाता है। इस दिवस पर लाभांवित गर्भवती महिला रानी कुमारी ने बताया कि इस दिवस के कारण मुझे ऐसी अवस्था में अपने खाने-पीने ओर पोषण संबंधी जानकारी मिल रही है।

सोशल डिस्टेंसिंग रखा गया ख्याल

आरोग्य दिवस मनाने के दौरान सभी स्वास्थ्सकर्मीयों के द्वारा सोशल डिस्टेसिंग का पालन किया जाता है। इस दौरान कोविड 19 के संक्रमण से बचाव के लिए सुरक्षात्मक यथा सभी स्तर पर व्यक्तिगत दूरी , मुंह को ढंक कर रखने , हाथ धोने एवं स्वास्थ्य संबंधित दिशा निर्देशों का पालन किया।

जेई का हुआ टीकाकरण

आरोग्य दिवस के मौके पर जेई के टीके के दोनों टीके को देने की व्यवस्था थी। जिसमें पहला टीका 9 से 12 महीने के बच्चों को दिया जाता है और दूसरा टीका 16 से 24 महीने के बच्चों को दिया जाता है। जिले के सभी केद्रों पर जेई के टीकाकरण की व्यवस्था थी।

क्या है आरोग्य दिवस:

आरोग्य दिवस के अंतर्गत हर बुधवार या शुक्रवार को यह दिवस मनाया जाता है जिसमें ग्रामवासियों, जन प्रतिनिधियों व ग्राम में पदस्थापित अधिकारियों,कर्मचारियों के साथ आंगनवाड़ी सेंटर, पंचायत इत्यादि पर आयोजित किया जाता है। इसे छह बिन्दुओं पर चर्चा करने के लिए वर्गीकृत किया गया हैए जिनमें प्रसव पूर्व एवं पश्चात जांचए मातृ एव बाल संबंधी जांचए परिवार नियोजन, पोषण, टीकाकरण और इस सभी सेवाओं पर आधारित परामर्श है ।
साथ ही निम्न बिन्दुओं पर भी चर्चा की जाती है. जैसे
मौसमी बीमारियों की रोकथाम के उपायों की जानकारी देना।
क्षेत्र में पायी जाने वाली स्थानीय वनस्पतियों की जानकारी व उपयोगिता बताना
दिनचर्याए रात्रि चर्याए आहारए विहारए व्यायाम आदि के लाभों की जानकारी देना
जल शुद्धि व वातावरण की स्वच्छता के उपाय व लाभ बताना
घरेलू नुस्खों व चिकित्सकीय अनुभवों का आदान.प्रदान करना
औषधालय द्वारा किये गये कार्यों की जानकारी देना व सुधार हेतु सुझाव आमन्त्रित करना
परिवार कल्याण व अन्य राष्ट्रीय कार्यक्रमों में जन सहभागिता सुनिश्चित करना

रिपोर्ट : अमित कुमार