Tue. Apr 20th, 2021

Real4news

Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी – Real4news.com

निश्चय पोषण योजना क्रियान्वयण में वैशाली बिहार में नंबर वन: डॉ रावत

1 min read

– जिला यक्ष्मा केंद्र में टीबी(TB) पर कार्यशाला का आयोजन
– टीबी रोगियों की पहचान होते ही दवा शुरु करें

वैशाली: जिला यक्ष्मा सभागार में शुक्रवार को एसटीएस तथा एसटीएलएस एवं एलटी के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ ज्ञानशंकर ने किया। मौके पर एसीएमओ डॉ ज्ञानशंकर ने कहा कि कोविड के कारण यक्ष्मा विभाग का कार्य प्रभावित हुआ था, पर लॉकडाउन के खुलते ही स्वास्थ्यकर्मियों के द्वारा जल्द ही कवर कर लिया गया, जो सराहनीय है। जिला संचारी रोग पदाधिकारी डॉ शिव कुमार रावत ने कहा कि यक्ष्मा विभाग के छह मुख्य प्रयोगशाला प्रवैदिकी पटना में किया हुआ है एवं अन्य प्रयोगशाला प्रवैदिकी को प्रखंड स्तर पर सैंपल संग्रह में लगने के कारण प्रयोगशाला का कार्य काफी प्रभावित हुआ है। इतने कठिन में राज्य स्तरीय रैंकिंग में वैशाली आंठवे रैंक पर है। यह अच्छी बात है कि यक्ष्मा रोगियों को दवा के अलावे उनके बैंक खाते में पांच सौ रुपया निश्चय पोषण योजना के तहत उनके बैंक खाते में देने में वैशाली नंबर एक पर है। डॉ रावत ने सभी कर्मियों को निर्देश दिया कि रोगियों के साथ रह रहे छह साल के बच्चों को भी दवा छह माह तक दिया जाये। प्रत्येक प्रखंड में दवा उपलब्ध करा दी गयी है और सभी एसटीएस तथा एसटीएलएस को निर्देश दिया कि सभी रोगियों का एचआइवी, ब्लड शूगर और यूडीएसटी की जांच अनिवार्य रुप से कराएं। टीवी रोग की पहचान होते ही उन्हें ससमय दवा शुरु करें। सभी एसटीएस को आदेश दिया गया कि टीबी रोगियों के घर जाकर यह जानकारी प्राप्त करें कि वह नियमित दवा ले रहे हैं कि नहीं।

 

दवा खाने से ठीक हो सकता है टीबी
कार्यशाला के दौरान डॉ रावत ने कहा कि पूर्ण रुप से टीबी की दवा खाने से यह पूर्णत: ठीक हो सकता है। वहीं कार्यशाला में प्राइवेट चिकित्सक के साथ डीएफवाई, अक्षया प्रोजेक्ट एवं टीबी चैंपियन अपना सहयोग देते हुए इस बीमारी का सफाया करने में अपना योगदान कर रहे हैं। प्रत्येक माह के दूसरे सोमवार को निश्चय दिवस के अवसर पर अपने -अपने ब्लॉक में टीबी के बारे में जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन करें, ताकि ज्यादा से ज्यादा इस बीमारी के पहचान के बारे में जानकारी मिल सकें। मौके पर सभी एसटीएस, एसटीएलएस तथा एलटी मौजूद थे।
रिपोर्ट : अमित कुमार